लिंग वृद्धि के तरीके, क्या लिंग का आकार बढ़ाया जा सकता है ,लिंग बढ़ाने के तरीके



दोस्तों, दुनिया का लगभग हर व्यक्ति एक लम्बे और सेहतमंद लिंग की कामना करता है। सेक्स के दौरान अपने साथी को संतुष्ट करने के लिए आपको अपना  लिंग बहुत छोटा लगता है या बहुत छोटा है। लेकिन अध्ययनों से पता चला है कि ज्यादातर पुरुष जो सोचते हैं कि उनके लिंग बहुत छोटे हैं, वास्तव में वह सामान्य आकार के लिंग हैं। विज्ञापनदाताओं (Advertisers) की माने तो आपका साथी आपके लिंग के आकार के बारे में गहराई से परवाह करता है। ध्यान रखें कि आपके साथी की जरूरतों और इच्छाओं को समझना आपके लिंग के आकार को बदलने की तुलना में औरआपके यौन संबंधों को बेहतर बनाने के लिए कहीं ज्यादा जरूरी है।

हालांकि शताब्दी बीत जाने के बाद और बाज़ार में अनेकों उपकरणों और दवाईओं के बावज़ूद कोई खास कामयाबी नही मिल पाई है। लिंग के आकार को सुरक्षित रूप से और प्रभावी ढंग से बढ़ाने का तरीका अभी भी कोसों दूर नज़र आता है।

लिंग का आकार -
दुनियाभर में लिंग के आकार में बड़ी असमानता देखने को मिलती है जैसे पूरी दुनिया में औसतन सबसे बड़ा लिंग Republic of Congo में रहने वाले मर्दों का है तक़रीबन 7.1 इंच और सबसे छोटा लिंग North Korea के मर्दों का तक़रीबन 3.8 इंच है। जहां सारी दुनिया का औसतन लिंग की लम्बाई 5.5 इंच है। वहीं भारतीओं के लिंग की 4.5 इंच औसतन लम्बाई है।

कुछ लोगों का लिंग कुदरती तौर पर छोटा रह जाता है और कइयों को किसी बीमारी के चलते जैसे Peyronie यां  प्रोस्टेट कैंसर सर्जरी आदमी के लिंग के आकार को कम कर सकती है।

फिर भी हम आपकी इच्छा का सम्मान करते और आपके अच्छे भविष्य की कामना करते हुए कुछ तरीकों पर चर्चा करते हैं।

1.वैक्यूम पंप-
यह एक सिलेंडर जैसा दिखने वाला  यंत्र है , जिसके  भीतर आप अपने लिंग को डालते हैं ,यह हवा को चूसता हुआ आपके लिंग के रक्त को  खींचता है परिणामसवरुप आपके लिंग में ज्यादा रक्त आने से वह पहले से लम्बा और सीधा हो जाता है। इसके बाद आप एक तंग अंगूठी नुमा यंत्र को लिंग के पिशले हिस्से पे पहना देते हैं ताकि रक्त वापिस ना जा पाए। इसका प्रभाव केवल तब तक रहता है जब तक आपने अंगूठी पहनी  है। 22 से 25  मिनट से अधिक समय तक इसका उपयोग करने से लिंग को क्षति भी हो सकती है।
इसको इस्तेमाल करने में फायदा कम और जोखिम ज्यादा है  जैसे मांस-तंतु का फटना , रक्त वाहिकाओं का फटना और अन्य समस्याएं शामिल हैं।

2.दवाइयां - बाज़ार में अनेकों तरह की कम्पनिया लिंग वृदि के लिए दवाइयां बना रही हैं जो आपके लिंग की लंबाई और चौड़ाई बढ़ाने का दावा करती हैं।
हालांकि, लिंग को बड़ा करने के लिए इस तरीका का समर्थन बहुत कम वैज्ञानिक करते है। इसलिए आप भी उनमें से किसी को आज़माने से पहले दो बार सोचें।

3.तेल - इसे बनाने वाली कंपनियों का दावा होता है के इसमें विटामिन, खनिज, जड़ी-बूटियां या हार्मोन होते हैं जो  लिंग को बड़ा करते हैं। मगर इनमे से कोई भी सही साबित नही हो पाया है। हाँ अगर कोई कंपनी वास्तव में अच्छे खनिज और जड़ी-बूटियां इस्तेमाल करती है तो इससे लिंग को सेहतमंद रखने में मदद मिल सकती है परन्तु लम्बाई या मोटाई नहीं बढ़ सकती।

4.व्यायाम- इसमें लिंग को निचे से ऊपर की तरफ धकेलने के लिए एक हाथ से अधिक गति का उपयोग करते हैं। यह तकनीक अन्य विधियों की तुलना में सुरक्षित दिखाई देती है, लेकिन इसका कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है के इससे भी लिंग की लम्बाई बढ़ सकती है।

5.लिंग-वृद्धि सर्जरी -
लिंग-वृद्धि सर्जरी की आवश्यकता आम तौर उन पुरुषों के लिए  होती है जिनके लिंग जन्म से  या चोट के कारण सामान्य रूप से काम नहीं करते हैं। हालांकि कुछ सर्जन विभिन्न तकनीकों का उपयोग करते हुए कॉस्मेटिक लिंग वृद्धि की पेशकश करते हैं, लेकिन इसमें भी लिंग को बड़ा करने के लिए सुरक्षित और प्रभावी तरीके की कोई गारंटी नहीं है.

अंत में सबसे अच्छा रहेगा आप अपने साथी से बात करें यक़ीनन उनके लिए  लिंग का आकार कोई लिए कोई मायने नहीं रखता। मायने रखता है आपसी ताल-मेल और प्यार हाँ अगर किसी कारण वश समय पूरा नहीं लगता आप जल्दी झड़ जाते हैं, या लिंग में तनाव कम रहता है उस स्थिति में
ध्यान देना कहीं ज्यादा उचित है।

Comments

Popular posts from this blog

अश्वगंधा एक चमत्कारी औषधीय जड़ी बूटी, Health benefits of Ashwagandha (Withania somnifera)

शीघ्रपतन को कैसे रोकें ?